टीवी शो & सीरियलमनोरंजन

Ramayana Actor : श्री राम के पुत्र बनकर घर-घर हुए थे फेमस,13 की उम्र में छोड़ दी थी फिल्में, अब है 1400 करोड़ की कंपनी के मालिक

रामानंद सागर के रामायण में जिस तरह से श्री राम और सीता और उनके पूरे रघुकुल वंशज का विस्तार से वर्णन किया गया है वैसे आज तक कहीं नहीं देखा गया है। उत्तर कांड में उन्होंने श्रीराम के पुत्रों के बारे में भी दर्शाया है जिसमें लव कुश अपने पिता के शौर्य और मां सीता की दुख भरी कहानी सुनाते हैं.

रामायण में रामानंद सागर ने श्री राम के पुत्रों के बारे में जिन दो तेजस्वी बालको की को लिया था। उनमें से अब एक भी फिल्मों में एक्टिंग नहीं करता है और ना ही कोई ग्लैमर इंडस्ट्री से जुड़ा हुआ है। आज हम आपको श्री राम के पुत्र लव के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें लोग आज भी याद करते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि वह आज कहां है और क्या कर रहे हैं और किस हाल में है?

See also  Ramayan Sita B grade movies : जाने क्यों करनी पड़ी थी रामायण की सीता को बी ग्रेड फिल्में भोजपुरी समेत 8 भाषाओं में की फिल्में

80 के दशक में आई रामायण में कई अभिनेताओं को बड़े मुकाम पर पहुंचा दिया जिसने अरुण गोविल और दीपिका चिखलिया को लोग आज भी प्रभु राम और सीता के रूप में पूजते हैं लेकिन वही अगर उनके पुत्रों की बात है तो उनके पुत्रों का रोल निभाने वाले लव कुश को लोग भूल गए हैं लेकिन उन पर फिल्माया गया हम कथा सुनाते हैं वाला गाना आज भी मशहूर है। उन 2 बालकों में एक स्वप्निल जोशी थे जो अब मराठी सिनेमा में एक्टिव हैं. जबकि एक मयूरेश क्षेत्रमाडे (Mayuresh Kshetramade) थे जो अब एक्टिंग से दूर हैं.

रामायण में श्रीराम के पुत्र बन फेसम हुए मयूरेश क्षेत्रमाडे को एक ही शो से बड़ा स्टारडम मिला बावजूद इसके उन्होंने ग्लैमर दुनिया को अलविदा कह दिया. यह एक्टिव के पास एक बड़े बिजनेसमैन बन रहे हैं शोबिज़ छोड़ने के बाद वो अब एक मल्टीमिलियन डॉलर कंपनी का प्रमुख हैं.

See also  Dharma Aastha : क्या आपको पता है कि देश में कुछ मुस्लिम ऐसे भी हैं जो अपने आप को मानते हैं राम का वंशज? बता रहे हैं इस्लाम कबूल करने की यह वजह

रामायण का उत्तराखंड जो 1988 में प्रसारित हुआ था और यह रावण वध के बाद के एपिसोड पर केंद्रित था शो में भगवान राम और सीता के दो पुत्र लव कुश दिखाए गए थे जिनकी भूमिका मयूरेश और स्वप्निल जोशी ने निभाई थी जबकि सपना शो से स्टारडम का फायदा उठाया और मराठी और हिंदी फिल्मों में अभिनेता बन गया है।वही मयूरेश में उत्तर रामायण में अभिनय करना एकमात्र श्रेय था जब लव कुश के नाम से शो 1989 में खत्म हुआ तो 13 साल की उम्र में मयूरेश ने अभिनय छोड़ दिया

मयूरेश आपकी पढ़ाई के लिए वापस चले गए और उन्होंने अपनी शिक्षा को पूरा किया। इसके बाद उन्होंने फाइनेंस में अपना करियर बनाया और अमेरिका चले गए।
उनके लिंक्डइन प्रोफाइल के अनुसार, मयूरश ने 2003 में विश्व बैंक के साथ एक शोधकर्ता के रूप में अपना करियर शुरू किया और अगले दशक तक कई अन्य कंपनियों में काम करते हुए कॉर्पोरेट सीढ़ी पर चढ़ गए.

See also  List of Horror Movies : इस वीकेंड देखे इन हॉरर फ़िल्मों को OTT पर, उसके बाद तो हनुमान जी ही बचाएंगे... 

2016 में, वो दुनिया के सबसे बड़े प्रदर्शन विपणन मंच, कमीशन जंक्शन से जुड़े. 2019 तक मयूरेश कंपनी के सीईओ के पद तक पहुंच गए थे. 2022 तक, सीजे का राजस्व लगभग 170 मिलियन डॉलर (लगभग 1400 करोड़ रुपये) बताया गया था, जिसके प्रमुख मयूरेश थे. पूर्व अभिनेता ने स्पाइट एंड डेवलपमेंट नाम से एक किताब भी लिखी है और अब वे अपने परिवार के साथ न्यूयॉर्क में रहते हैं