Uncategorized

Budget 2024 : यह तीन सरकारी योजनाएं बनी लोगों के लिए तोहफा, समाज में आई नई क्रांति

देश के संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अपना आखिरी बजट पेश कर दिया है। उन्होंने अपने बजट भाषण में कहा कि सरकार की योजनाओं का सीधा फायदा देश के गरीबों को हुआ है। उन्होंने पीएम जन धन योजना, पीएम गरीब कल्याण अन्य योजना और पीएम किसान सम्मान योजना का भी चर्चा किया है। वह कहती है कि इस समय सरकार की योजनाओं सीधे आम लोगों तक पहुंच रही है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण में कहा कि अन्नदाता के उत्पादन के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य में उचित रूप से समय-समय पर वृद्धि की गई है। निर्मला सीतारमण ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के अंतर्गत हर साल सीमांत और छोटे किसानों सहित 11.8 करोड़ किसानों को प्रत्यक्ष वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

See also  Mahtari Vandana Yojana 2024 : अब महिलाओं को हर महीने मिलेंगे 1000 रुपए, महतारी वंदन योजना को मिली मंजूरी
Budget 2024
यह तीन सरकारी योजनाएं बनी लोगों के लिए तोहफा

जबकि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत 4 करोड़ किसानों को फसल बीमा प्रदान किया गया है। उन्होंने कहा कि अनेक दूसरे कार्यक्रमों के अलावा इन उपायों से अन्यदाता को देश और पूरी दुनिया के लिए अन्य पैदा करने में सहायता दी जा रही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि 80 करोड लोगों को निशुल्क राशन के माध्यम से भोजन से जुड़ी चिताओं को खत्म कर दिया गया है।

. पीएम जन धन योजना का मकसद कमजोर वर्ग और कम आए वाले लोगों को वित्तीय सेवाएं मुहैया कराना है। इन सेवाओं में बचत बैंक अकाउंट लोन बीमा और पेंशन शामिल है। इस योजना के तहत खाता धारकों को ₹10 हजार तक की ओवरड्राफ्ट सुविधा मिलती है। अकाउंट खोलते ही ₹2 हजार के ड्राफ्ट सुविधा भी मिलती है।

See also  PM Kisan Samman Nidhi Yojana : चार दिन का इंतजार, 9 करोड़ किसानों को पैसे ट्रांसफर करेगी मोदी सरकार

इस अकाउंट में मिनिमम बैलेंस मेंटेन करने की जरूरत नहीं होती है। ओवरड्राफ्ट सुविधा का लाभ उठाने के लिए जनधन खाता कम से कम 6 महीने पुराना होना चाहिए। अगर खाता 6 महीने से कम पुराना है तो सिर्फ ₹2 हजार तक की ओवरड्राफ्ट सुविधा मिलती है। और ड्राफ्ट की सुविधा के लिए अधिकतम उम्र सीमा 65 साल है।

. पीएम गरीब कल्याण अन्य योजना कॉविड-19 महामारी के दौरान साल 2020 मार्च में शुरू की गई थी। इसका मकसद गरीबों और जरूरतमंदों को होने वाली परेशानियों को दूर करना था। इस योजना के तहत नियमित तौर पर मासिक अनाज वितरित किया जाता है। हर व्यक्ति को हर महीने 5 किलोग्राम का अनाज मिलता है। इस योजना को साल 2021 नवंबर में 4 महीने के लिए बढ़ा दिया गया था। उसके बाद दोबारा से कैबिनेट ने पीएम करीब कल्याण और योजना को 1 जनवरी 2024 से 5 साल के लिए बढ़ाने का फैसला किया था।

See also  Budget Session 2024 : संसद का बजट सत्र आज से, कल पेश होगा मोदी सरकार 2.0 का आखिरी अंतरिम बजट

. पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत, सरकार किसानों को सालाना ₹6 हजार देती है। यह राशि किस्तों में दी जाती है। हर किस्त में किसान के खाते में ₹2 हजार आते हैं। 15 नवंबर 2023 को सरकार ने देश के करोड़ों किसान के खाते में 15वी किस्त जारी की थी।