ताज़ा खबरें

Jitan Ram Manjhi Statement : जीतन राम मांझी ने कहा हम गरीब हो सकते हैं लेकिन बेईमान नहीं, जानिए ऐसा कहने की वजह

जीतनराम मांझी ने यह कह दिया है कि वो कहीं और नहीं जाने वाले हैं।मांझी एनडीए के साथ ही रहेंगे।उनके चारों विधायक कहीं और नहीं जाने वाले हैं. बिहार विधानसभा में 12 फरवरी को फ्लोर टेस्ट होने वाला है। नितिश कुमार ने सदन में बहुमत पेश किया है कहीं कोई खेल ना हो जाए,

इसलिए सत्ता पक्ष से विपक्ष तक अपने विधायकों को एकजुट करने में जुटे हुए हैं. इस बीच, हम पार्टी के चीफ जीतनराम मांझी की तरफ से नीतीश कुमार के लिए अच्छी खबर आई है. जीतन राम मांझी ने साफ कह दिया है कि वह अब पाला बदलने वाले नहीं है, जितना नाम मांझी की पार्टी ने अपने विधायकों के लिए व्हिप जारी करके कह दिया है कि फ्लोर टेस्ट में NDA गठबंधन के पक्ष में ही वोट देना है.

See also  खुले में किया प्यार का इज़हार तो तुरंत शादी

फ्लोर टेस्ट को लेकर जीतन राम मांझी ने कहा कि हम गरीब हैं लेकिन बेईमान नहीं है इससे यह साफ हो गया है कि सीएम पद का जो ऑफर लाल यादव की पार्टी राजद की तरफ से जीतन राम मांझी को दिया गया था. उसे उन्होंने जानकारी दिया है और एनडीए के पाले में ही रहने का फैसला किया.

जीतन राम मांझी ने बताया कि पार्टी के सभी चार विधायकों के लिए व्हिप जारी कर दिया गया है कि वे एनडीए के पक्ष में ही वोट करेंगे.उन्होंने कहा हम कहीं नहीं जाएंगे हम बेईमान नहीं हैं. मांझी के इस बयान से यह साफ हो गया कि बिहार विधानसभा में नीतीश आसानी से बहुमत साबित कर लेंगे क्योंकि अगर मांझी अलग नहीं हो रहे हैं तो उनकी सरकार को कोई खास खतरा नहीं है.

See also  UP Lok Sabha Result 2024 : काश हाई कमान ने सुनी होती अपने विधायकों की बात तो आज भाजपा के 26 सांसद हारे न होते... 

बताया जा रहा है कि बिहार विधानसभा के मुख्यमंत्री नीतीश के फ्लोर टेस्ट को लेकर राजनीति हलचल काफी तेज है. सोमवार को होने वाले विश्वास मत से पहले सभी पार्टियों में बैठकों का दौर जारी है.पटना में जदयू विधायकों की बैठक मंत्री विजय चौधरी की आवास पर होगी. इस बैठक में सीएम नीतीश कुमार भी मौजूद रहेंगे तो वहीं बीजेपी ने वर्कशॉप के बहाने विधायकों को बोधगया शिफ्ट कर दिया है.शाम तक बीजेपी विधायक यहीं रहेंगे.

बताया जा रहा है कि बिहार में कल फ्लोर टेस्ट होना है और नंबर में कोई खेल ना हो जाए इसलिए आरजेडी विधायकों को शनिवार शाम को ही बैठक के नाम पर पटना में तेजस्वी के आवास पर बुलाया गया है. 3 घंटे के बाद विधायकों को 12 फरवरी तक तेजस्वी के घर पर रुकने का फरमान सुना दिया गया है. वहीं, कांग्रेस पार्टी भी अपने विधायकों को लेकर रिस्क लेने के मूड में नहीं है. कांग्रेस के 16 विधायक हैदराबाद में ही मौजूद हैं. बताया जा रहा है सभी विधायक को फ्लोर टेस्ट के दिन ही पटना पहुचेंगे.