ताज़ा खबरेंभारत की खबरें

आज के ही दिन अभिनंदन ने दिखाई थी अपनी बहादुरी लिया था पुलवामा का बदला किया था आतंकियों का सफाया

जैश-ए- मोहम्मद के आतंकी शिविर पर भारतीय वायुसेना के हमलो के जवाब में पाकिस्तान वायु सेवा ने 27 फरवरी को भारतीय ठिकानों पर हमला करने के लिए विमान भेजा था और काफी आक्रामक कार्यवाही भी की थी। आज के दिन भारतीय वायु सेवा के लिए काफी बड़ा दिन है। आज यानी 26 फरवरी को बालाकोट एयर स्ट्राइक के पूरे 5 साल हो गए हैं।

बालाकोट एयर स्ट्राइक 26 फरवरी 2019 को सुबह लगभग 3:30 बजे हुई थी। भारत में पुलवामा में शहीद हुए अपने 40 वीर जवानों का बदला लिया था। भारत-पाक युद्ध के बाद पाकिस्तान में घुसकर भारत द्वारा की गई पहली हवाई बमबारी भी की गई थी। बालाकोट एयर स्ट्राइक से यह बात साबित हो गई थी कि भारत अपने देश के प्रति किसी भी खतरे का जवाब अच्छे से देना जानता है। 26 फरवरी को भारतीय वायु सेवा के विमान ने नियंत्रण रेखा को पार कर पाकिस्तान के बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाया था। बालाकोट हवाई हमले में 12 मिराज 2000 लड़ाकू विमान इस्तेमाल किए गए थे। इससे पहले 14 फरवरी को पुलवामा में भारतीय सुरक्षा कर्मियों पर आत्मघाती हमले किए गए थे।

See also  Raja and Rancho : ना ऐसा जासूस देखा होगा और ना ही उसका साथी, दूरदर्शन के इस डिटेक्टिव सीरियल की अजब-गजब जोड़ी का पूरे हफ्ते रहता था इंतजार

हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 40 जवानों की मौत हो गई थी और पाकिस्तान के आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी भी ली थी। इस हमले का बदला लेने के लिए भारतीय वायु सेवा ने एक जबरदस्त योजना बनाई। उन्होंने बालाकोट एयर स्ट्राइक मिशन का नाम ऑपरेशन बंदर रखा इस सफल मिशन की कमान भारतीय वायु सेवा के सातवें और नॉर्वे इसका वर्णन ने संभाली। यह एयर स्ट्राइक पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि के लिए थी। बालाकोट में जैन ए मोहम्मद के आतंकी शिविर पर भारतीय वायु सेवा के हम लोग के जवाब में पाकिस्तान वायु सेवा ने 27 फरवरी को भारतीय ठिकानों पर हमला करने के लिए विमान भेजा था।

See also  क्राइम ब्रांच की टीम भी रह गई सन्न जब यूपी पुलिस की परीक्षा देने पहुंचा युवक, एडमिट कार्ड देखते ही उड़ गए होश

पाकिस्तान ने एफ-16 लड़ाकू विमान से जवाबी हवाई हमला किया लेकिन भारतीय वायु सेवा ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया। भारतीय वायु सेवा ने पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया। इस कारनामे को विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने अंजाम दिया था। भारतीय वायु सेवा के विंग कमांडर ने पाकिस्तान में घुसकर अपने मिग 21 लड़ाकू विमान से उनके अत्याधुनिक एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया था।
इस दौरान अभिनंदन का लड़ाकू विमान मिग 21 दुर्घटनाग्रस्त हो गया था और वह पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके में पहुंच गए थे। पाकिस्तान ने अभिनंदन को पकड़ लिया था हालांकि भारत के दबाव के आगे पाकिस्तान की इमरान खान सरकार को अभिनंदन को 48 घंटे में छोड़ना पड़ा और एक मार्च 2019 को विंग कमांडर अभिनंदन अटारी वाघा बॉर्डर से वतन लौट आए थे।