अजब-गजब

Scorpion Birth And Death : क्या आप जानते हैं कि आखिरकार बिच्छू जन्म लेते ही क्यों खा जाते हैं अपनी मां को?

आज तक आपने अलग-अलग जानवरों को अलग-अलग हरकतें करते हुए देखा होगा और उनके बारे में कई सारे दिलचस्प कहानियां और उनसे जुड़े हुए रोचक तथ्य भी जाने होंगे। आज हम आपको बिच्छू के बारे में कुछ ऐसा बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आप हैरान हो जाएंगे जो बेहद जहरीला और खतरनाक जीव है।बिच्छू जितना छोटा होता है उतना ही खतरनाक और जहरीला भी होता है अगर यह डंक मार दे तो उसे आपकी मौत भी हो सकती है।बिच्छू के डंक से निकलने वाला जहर व्यक्ति को लकवा ग्रस्त भी बना देता है बिच्छू के जहर से कई सारी दवाइयां भी बनाई जाती हैं।

आपने देखा होगा कि बिच्छू अक्सर अपना डेरा ईंटों या पत्थरों के नीचे बनाते हैं ! ये काले, मिट्टी के रंग या गहरे भूरे और भूरे रंग के होते हैं ! इनका शरीर लम्बा और संकीर्ण होता है और दो भागों ‘सेफलोथोरैक्स’ और ‘पेट’ में विभाजित होता है ।

See also  Delhi Metro Reel : लड़की ने दिल्ली मेट्रो में रील बनाने के लिए किया अश्लील डांस, लोगों बोले- शर्म करो बच्ची…

आपको जानकारी हैरानी होगी कि दुनिया भर में बच्चों की 2000 से भी ज्यादा अधिक प्रजाति हैं।बिच्छू लगभग 20°C से 37°C के तापमान के बीच रहना पसंद करता है ! लेकिन वे जमा देने वाली ठंड और झुलसा देने वाली गर्मी को आसानी से सहन कर सकते हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि बिच्छू अपने बच्चों को जन्म देने के बाद मर जाती है। बिच्छू आमतौर पर छोटे कीड़ों का शिकार करते हैं।बिच्छू शिकार करते समय अपने डंक के माध्यम से अपना जहर शिकार के शरीर में छोड़ देते हैं।यह अपने शिकार को पंगु बना देता है और फिर उसे जिंदा ही खा जाता है।इसके अलावा अगर हम मादा बिच्छू की बात करें तो एक मादा बिच्छू एक बार में लगभग 100 बच्चों को जन्म देती है, जो बाद में उन्हें खा जाते हैं।

See also  Ajab-Gjab : कुत्ता कर रहा था नदी पार तभी अचानक मगरमच्छ ने दबोच लिया, फिर जो हुआ देखकर रूह काँप जाएगी... 

आपको बता दे कि जैसे ही मादा बच्चों के बच्चे होते हैं। वह उन्हें अपनी पीठ पर लाद कर सुरक्षित स्थान पर ले जाती है और वे बच्चे तब तक उसकी पीठ पर बैठी रहती है जब तक कि वह उसे खाकर खोखला न कर दें।

दरअसल कहा जाता है कि बिच्छू के बच्चे पैदा होते ही अपनी मां की पीठ से चिपक जाते हैं। इसके बाद मां का शरीर ही उन बच्चों के लिए भोजन बन जाता है।मादा बिच्छू के बच्चे तब तक अपनी माँ की पीठ से चिपके रहते हैं !

आपको बता दे की माता बिच्छू के बच्चे तब तक अपनी मां के पेट से नहीं करते जब तक की उसका पूरा मास्क खत्म नहीं हो जाता और वह मर नहीं रहती
मादा बिच्छू की मृत्यु के बाद उसके बच्चे स्वतंत्र रूप से रहते हैं !

See also  हाथी से दोस्ती करने के चक्कर में लड़की को मिला सबक, हाथी हुआ गुस्सा और किया यह काम

जब उसके शरीर का सारा मांस ख़त्म हो जाता है और मादा बिच्छू मर जाती है, तब उसके बच्चे उसकी पीठ से बाहर आ जाते हैं और स्वतंत्र रूप से रहना शुरू कर देते हैं, इत्यादि ! किसी ने सच ही कहा है कि इस दुनिया में कई चीजें ऐसी हैं जिनके बारे में हमें समझ नहीं आता कि वो क्यों होती हैं !