अजब-गजबभारत की खबरें

शादी से बार-बार इनकार करने के बाद दुल्हन ने दूल्हे को सिखाया ऐसा सबक की देखते रह गया हर कोई

उत्तर प्रदेश के संभल का एक मामला सामने आ रहा है जहां बार-बार शादी से इनकार करने वाला दूल्हा दुल्हन के सबक सिखाने के बाद तुरंत उसके घर बारात लेकर पहुंच गया। हंसी-खुशी के साथ दुल्हन और दूल्हे को सभी ने विदा किया।

संभल जिले में शादी से तीन बार दूल्हे के मना करने पर दुल्हन पक्ष काफी परेशान हो गया। दूल्हा और दुल्हन के घर वालों ने दूल्हे को सबक सिखाने के बारे में सोचा। दुल्हन और घर वालों ने एसपी से न्याय की गुहार लगाई तो बुधवार को पुलिस ने दूल्हे व उसके परिजनों को मनाया और शादी करवाई।

See also  Weird News : लड़की ने सिर्फ 200 मी के लिए बुक की बाइक, लड़का आया एक किलोमीटर दूर से, लोग बोले 'बहुत पैसा है भाई!'

जुनावई थाना क्षेत्र के मैडोली गांव के रहने वाले रघुनंदन ने अपनी बेटी की शादी के दबतारा क्षेत्र के रहने वाले नेमपाल के साथ तय की थी। नेमपाल सिंह को शशि के साथ सात फेरे लेने के लिए 4 मई को बारात लेकर पहुंचना था लेकिन शादी से इनकार किए जाने के बाद गांव में पंचायत बुलाई गई।

पंचायत में 11 जून का समय रखा लेकिन फिर 11 जून को बरात नहीं आई और फिर शादी से दूल्हे पक्ष ने इनकार कर दिया। 28 फरवरी को शादी की तिथि रखी गई। शादी के 3 दिन पहले लड़के पक्ष ने शादी से मना कर दिया पीड़ित पिता रघुनंदन ने जुनावई थाने में इसकी शिकायत की पुलिस अधीक्षक ने चुनाव में थाने में रिपोर्ट भेजकर लड़की पक्ष को न्याय दिलाने के आदेश दिए।

See also  'एक्टर्स के कहने के बाद भी नहीं बदले डायलॉग', विंदू दारा सिंह ने 'आदिपुरुष' को बताया बड़ी गलती

इसके बाद बुधवार को जुनावई थाना पुलिस ने डॉक्टर मनोज कुमार के सहयोग से पंचायत कर लड़के पक्ष को शादी के लिए मनाया। इस पंचायत में नेमपाल सिंह शशि के साथ-साथ फेरे लेने के लिए अपने गांव के 25 लोगों को भी लेकर आया और दोनों की शादी संपन्न हुई। लड़की पक्ष ने बारातियों का स्वागत किया।हंसी खुशी के साथ दूल्हा दुल्हन को विदा किया गया।