ताज़ा खबरेंधार्मिक

अयोध्या में बहने वाली सरयू ने धारण किया रौद्र रूप, राम मंदिर में बाढ़ आने की स्थिति से बचने के लिए क्या है मास्टर प्लान… 

Ram Mandir Ayodhya : इन दिनों जबरदस्त गर्मी के बाद देशभर में बारिश का दौर जारी है. रामनगर अयोध्या में तो शनिवार दोपहर से ही शुरू हुई लगातार बारिश ने हालत ही बिगाड़कर रख दिए हैं. मालूम हो कि रात के समय जबरदस्त मूसलाधार बारिश अयोध्या में दर्ज की गई है. वहीं आज सुबह यानी कि रविवार को भी रिमझिम बारिश हो रही है. ऐसे में सरयू का जलस्तर वार्निंग लेवल के पास पहुंच गया है. इसके साथ ही पूरे शहर में बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है. मालूम हो कि रात भर हुई मूसलाधार बारिश के कारण सरयू नदी अपने पूरे उफान पर है. वायरल वीडियो

See also  Kangana Ranaut Slapped : अर्जुन अवार्डी शूटर उतरी कंगना रनौत को थप्पड़ मारने वाली कुलविंदर कौर के समर्थन, पहले भी उठाया है आवाज हिजाब मामले में... 

आज सुबह सरयू नदी का जलस्तर 91.530 सेमी दर्ज किया गया है. ऐसे में अब सबसे बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि सरयू के उफान से क्या राम मंदिर को कोई खतरा हो सकता है. मालूम हो कि राम मंदिर को बाढ़ समेत तमाम प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए बड़े hiyविशेष तरीके से निर्मित किया गया है. वहीं फिलहाल अयोध्या में बाढ़ जैसी स्थिति नहीं है, लेकिन इसका ये अर्थ कहीं से भी नहीं है कि अयोध्या में बाढ़ नहीं आ सकती है. मालूम हो कि इससे पहले साल 1998 में अयोध्या में भयंकर बाढ़ आई थी. वायरल वीडियो

See also  Rituraj Singh Death : टीवी अभिनेता ऋतुराज सिंह का हुआ निधन, 59 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

तब अयोध्या फैजाबाद जनपद के नाम से जाना जाता था. ऐसा बताया जाता है कि साल 1998 में सरयू नदी खतरे के निशान से एक मीटर 30 सेंटीमीटर ऊपर बहने लगी थी. लेकिन गौरतलब हो कि सरयू नदी से राम मंदिर तकरीबन 72 फीट की ऊंचाई पर स्थित है. ऐसी स्थिति में बाढ़ से राम मंदिर kat इलाका सुरक्षित माना जा सकता है. वहीं एक हजार करोड़ की लागत से बने राम मंदिर को कुछ इस तरीके से डिजाइन करके निर्मिति किया गया है कि राम मंदिर प्राकृतिक आपदाओं के समय भी सुरक्षित रह सकता है. वायरल वीडियो