Uncategorized

Ramanand Sagar Ramayan Actor : वह मुस्लिम एक्टर जिसने रामानंद सागर की रामायण और श्रीकृष्णा में भी निभाई दर्जनों किरदार, अब ऐसा है हाल…

रामानंद सागर का ’रामायण’ साल 1987 में 25 जनवरी से 1988 में 31 जुलाई तक पहली बार प्रसारित होने पर लोकप्रियता के सारे रिकॉर्ड तोड़ने के बाद अब तक सबसे लोकप्रिय भारतीय टीवी शो में से एक बना हुआ है। लॉकडाउन में भी इस सीरियल का प्रसारण फिर से शुरू हुआ और जब अयोध्या में श्री राम जी स्थापित हुए तो फिर से लोग राम भक्ति में डूब गए हैं, और कई लोग फिर से यूट्यूब पर राम को अपने घरों में परिवार संग देख रहे हैं। अरुण गोविल और दीपिका चिखलिया सहित इस शो के कलाकारों ने लोकप्रियता हासिल की और आज भी सम्मान पा रहे हैं। बड़े पैमाने पर उनकी फैन फॉलोइंग है। इसमें एक अभिनेता ने तो दर्जनों रोल निभाए थे लेकिन अब वह गुमनाम हो गया। आज यहां हम उसी एक्टर के बारे में जिक्र कर रहे हैं।

See also  Indian Rupees : रुपए ने मारी बाजी चीन और जापान रह गए हक्के-बक्के, भारत निकाला आगे, दिखाई अपनी ताकत

यहां हम ’रामायण’ में तमाम किरदार निभाने वाले झांसी के रहने वाले एक मुस्लिम एक्टर के बारे में बात कर रहे हैं जिनका नाम असलम खान है। उन्हें ’रामायण’ में विभिन्न भूमिकाओं को अत्यंत पूर्णता के साथ निभाने के लिए प्रशंसा मिली है।

असलम खान ने एक रिपोर्ट के साथ पहले साक्षात्कार मे रामायण में अपने अभिनय अनुभव के बारे में बात की थी। उन्होंने पोर्टल को बताया कि उन्होंने वानर के मुखबिर राजा तुकाराम और सुप्रीव की भूमिका निभाई है। असलम खान ने कहा कि सभी भूमिकाओं में उनका मुख्य किरदार समुद्र देवता था। उन्होंने यह भी बताया कि उन्हें रामायण में यह भूमिका है कैसे मिली।

उनके अनुसार, उनके करीबी मित्र विजय गवेश ने उन्हें रामायण ऑडिशन के बारे में जानकारी दी थी। असलम खान ने बताया कि ऑडिशन एक आसान काम नहीं था। उन्होंने कहा कि रामानंद सागर किसी को किरदार देने से पहले कई पहलुओं पर विचार करते थे। उन्होंने याद किया कि दिवंगत निर्देशक ने उन्हें देखकर संत तुकाराम की भूमिका निभाने के लिए कहा था। इसके बाद असलम खान ने रामायण में अन्य भूमिकाएं भी निभाई।

See also  Ranbir Kapoor's Ramayan : रणबीर कपूर की रामायण में मेकर्स ने विभीषण के लिए चुना इस साउथ एक्टर को, फीस पर अभी रुकी है बात

पत्रकारों से बातचीत में रामानंद सागर के बेटे प्रेम सागर ने खुलासा किया कि असलम खान को अलग-अलग भूमिकाओं में क्यों लिया गया। प्रेम शुक्ला के अनुसार उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा और इसलिए कुछ जूनियर कलाकारों को दोबारा रिपीट किया गया।

रामायण के बाद असलम खान ने अलिफ लैला, श्री कृष्णा, सूर्यपुत्र कर्ण, मसाल, और हवाएं जैसे प्रसिद्ध शो में मुख्य भूमिकाएं निभाई। उन्होंने श्री कृष्णा में भी दर्जनों किरदार निभाए हैं, जिसमें वह कभी ऋषि बन जाते हैं तो कभी कंस के दरबारी प्रधानमंत्री, कभी ग्वाले बन जाते हैं और कभी खूंखार राक्षस के रुप में नजर आते हैं।

See also  Ramlala Idol Arun Yogiraj : मूर्ति को लेकर मूर्तिकार अरुण योगीराज ने किया अब बड़ा खुलासा, जानकर हैरान रह गए सब

हालांकि, असलम खान सीरियल के बाद वह प्रसिद्धि हासिल नहीं कर पाए जिसकी उन्हें उम्मीद थी। और उन्होंने साल 2002 में इंडस्ट्री छोड़ने का निर्णय किया। एक पोर्टल को दिए गए इंटरव्यू में असलम खान ने कहा था कि उन्हें इंडस्ट्री में ज्यादा काम नहीं मिल रहा था। इसके चलते उन्होंने अपना खुद का बिजनेस शुरू किया। रिपोर्ट के अनुसार वह उत्तर प्रदेश के झांसी में स्थित एक मार्केटिंग फॉर्म में काम करते हैं।

कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान रामायण प्रसारित होने के बाद असलम खान का नाम फिर से सामने आया था। सोशल मीडिया पर उनके बारे में तरह-तरह के मीम्स और चुटकुले प्रसारित किया गए थे। लेकिन अब वो ग्लैमर इंडस्ट्री से दूर एक आम आदमी की तरह अपनी जिंदगी बिता रहे हैं। और परिवार का पेट पाल रहे हैं। इंडस्ट्री में वह पूरी तरह से गुमनाम हो चुके हैं।