Uncategorized

Ramanand Sagar Ramayan Actor : रामानंद सागर की रामायण में काम करने वाले वह मुस्लिम एक्टर जिन्होंने निभाए 11 से भी ज्यादा किरदार, अब है यह हाल

रामानंद सागर की रामायण 25 जनवरी 1987 से 31 जुलाई 1988 तक प्रसारित हुई और इस शो ने आज तक इतने रिकॉर्ड बनाए हैं कि कोई इनका रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाया है। यह सबसे लोकप्रिय शो में से एक है। लॉकडाउन में भी एक बार इसे फिर से प्रसारित किया गया था जिसके बाद इसने फिर से टीआरपी लेवल हासिल कर लिया था और अब अयोध्या में भी श्री राम विराजमान हो चुके हैं। और लोग राम भक्ति में डूबे हुए हैं। वही इस शो के कई कैरेक्टर भी लगातार सम्मान पा रहे हैं लोग आज भी इन्हें भगवान का दर्जा देते हैं लेकिन रामायण में एक ऐसे अभिनेता भी थे जो मुस्लिम थे और उन्होंने दर्जनों रोल निभाए लेकिन अब वह गुमनाम हो गए हैं।

See also  PM Modi in Varanasi : वाराणसी में प्रधानमंत्री ने कहा, भारत का युवा ही देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा

दरअसल, यहां हम रामायण में तमाम किरदार निभाने वाले झांसी के रहने वाले एक मुस्लिम एक्टर के बारे में बात कर रहे हैं जिनका नाम असलम खान हैं. उन्हें रामायण में विभिन्न भूमिकाओं को अत्यंत पूर्णता के साथ निभाने के लिए प्रशंसा मिली है.

असलम नाम अपने इंटरव्यू में रामायण में अपने अनुभव शेयर किया उन्होंने कहा कि वानर के मुखबिर राजा तुकाराम और सुग्रीव की भूमिका निभाई है असलम ने कहा कि सभी भूमिकाओं में उनका मुख्य किरदार समुद्र देवता था. उन्होंने यह भी बताया कि उन्हें रामायण में ये भूमिकाएं कैसे मिलीं.

Ramanand Sagar Ramayan Actor
रामानंद सागर की रामायण में काम करने वाले वह मुस्लिम एक्टर जिन्होंने निभाए 11 से भी ज्यादा किरदार, अब है यह हाल

उन्होंने बताया कि उनके करीबी दोस्त विजय गणेश ने उन्हें रामायण ऑडिशन के बारे में बताया असलम ने कहा कि जैसे ऑडिशन आसान नहीं था उन्होंने कहा कि रामानंद सागर किसी को किरदार देने से पहले कई पहलुओं पर विचार करते थे उन्होंने याद किया कि दिवंगत निर्देशक ने उन्हें देखकर संत तुकाराम की भूमिका निभाने के लिए कहा था. इसके बाद असलम ने रामायण में अन्य भूमिकाएं भी निभाईं.

See also  Lok Sabha chunav 2024 : Lalu Yadav ने की PM Modi से नैतिकता के आधार पर इस्तीफा की मांग, कहा- अपनी सीट भी...

मीडिया से बातचीत में रामानंद सागर के बेटे प्रेम सागर ने खुलासा किया कि असलम को अलग-अलग भूमिकाओं में क्यों लिया गया. प्रेम के मुताबिक, उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा और इसीलिए कुछ जूनियर कलाकारों को रिपीट किया गया.

रामायण के बाद, असलम ने अलिफ लैला, श्री कृष्णा, सूर्यपुत्र कर्ण, मशाल और हवाएं जैसे प्रसिद्ध शो में मुख्य भूमिकाएं निभाईं. उन्होंने श्रीकृष्णा में भी दर्जनों किरदार किए हैं, जिसमें वेकभी ऋषि बन जाते तो कभी कंस के दरबारी प्रधानमंत्री, कभी ग्वाले बन जाते हैं और कभी खूंखार राक्षस के रूप में नजर आते

हालांकि शो के बाद असलम ज्यादा फेमस नहीं हो पाए और उन्होंने साल 2002 में इंडस्ट्री छोड़ने का फैसला कर लिया। उन्होंने बताया कि इंडस्ट्री में ज्यादा काम नहीं था जिसके चलते उन्होंने अपना खुद का बिजनेस शुरू किया और अब वह झांसी में स्थित एक मार्केटिंग फर्म में काम करते हैं।

See also   Ayodhya Ram Mandir : रामलला के लिए आई तकिया, रजाई, दान में मिला गद्दा, अमेरिका ने भेजा रामलल्ला के लिए सोने का सिंहासन

कोवड-19 लॉकडाउन के दौरान रामायण प्रसारित होने के बाद असलम का नाम फिर से सामने आया था. सोशल मीडिया पर उनके बारे में तरह-तरह के मीम्स और चुटकुले प्रसारित किए गए थे. लेकिन अब वो ग्लैमर इंडस्ट्री से दूर एक आम आदमी की तरह अपनी जिंदगी जी रहे हैं और परिवार पाल रहे हैं. इंडस्ट्री में वे पूरी तरह से गुमनाम हो चुके हैं.